कोटा. कोचिंग सिटी कोटा के ग्रामीण इलाके में तीन दिन पहले हुई तीन लोगों निर्मम हत्याकांड (Triple murder case) में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. इन तीनों हत्याओं का अंजाम देने का आरोपी पिछले दिनों अपनी पत्नी को छोड़कर अविवाहित साली (Bachelor Sister-In-Law) को भगाकर ले आया था. इस पर उसके ससुराल वाले लड़की को वापस लेने आये थे. लेकिन आरोपी ने उनको शराब के नशे में धुत्त कर धारदार हथियार से तीनों को मौत के घाट उतार दिया. हालांकि अभी तक आरोपी पुलिस की गिरफ्त में नहीं आया है. पुलिस उसकी तलाश में जुटी है.

पुलिस के अनुसार तीन दिन पहले शुक्रवार रात को कोटा ग्रामीण के खातोली थाना इलाके के बालुपा गांव से करीब 4 किमी दूर खेत में तीन लोगों की हत्या कर दी गई थी. शनिवार को सुबह इसकी सूचना मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शवों को कब्जे में लिया. पुलिस की प्रारंभिक जांच में सामने आया कि पूरी वारदात को 'नाते' को लेकर अंजाम दिया गया था. आरोपी बल्लू अपनी पत्नी को छोड़कर ससुराल से अविवाहित साली को भगाकर ले आया था.

शराब पिलाकर नशे में धुत्त कर की हत्या
इस पर उसकी ससुराल वाले मोरपाल, गोपाल व मुकेश मोग्या लड़की को वापस लेने के लिये आये थे. वहां पहले उनमें झगड़ा हुआ. बाद में बल्लू ने शुक्रवार रात को सभी को शराब पिलाकर नशे में धुत्त कर दिया. फिर मौका देखकर हथियारबंद हथियारों से हमला कर उनको मौत के घाट उतार दिया. बाद में वहां से फरार हो गया. वारदात स्थल वन क्षेत्र होने के साथ ही मध्यप्रदेश से सटा है. ऐसे में रात को किसी को पता नहीं चला. हत्या के शिकार हुये तीन लोग बूंदी के खरायता व आसपास के रहने वाले थे.
फिलहाल इस मामले में पुलिस के हाथ खाली है


सुबह ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और हालात का जायजा लिया. जिस लड़की को बल्लू भगाकर लाया था उसकी बूंदी के दबलाना थाने में गुमशुदगी भी दर्ज है. बड़ी बात यह है भी कि लड़की के भगाने का मामला करीब 1 माह पुराना होने के बावजूद इसकी गुमशुदगी वारदात से एक दिन पहले ही दर्ज हुई है. फिलहाल इस मामले में पुलिस के हाथ खाली है. हत्या के मामले में और कौन-कौन शामिल थ इसका अभी तक खुलासा नहीं हो पाया है.