लखनऊ । भाजपा के नवाबगंज से विधायक केसर सिंह की बुधवार को कोरोना से नोएडा के एक अस्पताल में मौत हो गई। भाजपा विधायक की पिछले एक माह से तबीयत खराब चल रही थी। उन्हें एक मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। बाद में उनकी तबीयत ठीक हो गई। वह घर चले गये। लेकिन दोबारा से उनकी तबीयत खराब हो गई। जिस पर उन्हें फिर मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। कोरोना पॉजिटिव आने के बाद उन्हें प्लाज्मा की जरूरत थी जिस पर उन्होंने प्लाज्मा के लिए सोशल मीडिया पर पोस्ट कर डोनेट करने की मांग की थी। 18 अप्रैल को हालत बिगड़ने पर उनके बेटे विशाल गंगवार ने सोशल मीडिया पर टिप्पणी की थी कि उनके पापा को बेहतर इलाज नहीं मिल रहा है। उन्होंने प्रदेश सरकार की स्वास्थ्य व्यवस्था पर भी सवाल खड़े किए थे। इसके बाद स्वास्थ्य मंत्रालय ने उन्हें बरेली से 19 अप्रैल को नोएडा के एक अस्पताल में भर्ती कराया था। जहां उनका इलाज चल रहा था। बुधवार दोपहर बाद उन्होंने अंतिम सांस ली। विधायक के बड़े बेटे मुनेंद्र की दो साल पहले बीमारी से मौत हो चुकी है। उनका छोटा बेटा विशाल गंगवार साथ में था। उनके परिवार में पत्नी दो बेटियां और एक बेटा है। भाजपा विधायक केसर सिंह बसपा से एमएलसी रहे हैं। इसके अलावा उनके भाई की पत्नी उषा गंगवार जिला पंचायत अध्यक्ष रही है। पहली बार भाजपा ज्वाइन करने के बाद उन्होंने विधानसभा का चुनाव लड़ा और नवाबगंज से भारी मतों से विजयी हुए थे।