मेरठ |  उत्तर प्रदेश में मेरठ के शास्त्रीनगर सेक्टर-दो में एक शिक्षिका की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। ससुरालवालों पर हत्या का आरोप है। मृतका का एक दिन पहले ही 50 लाख का बीमा हुआ था। पुलिस जब पहुंची तो उसकी लाश डीप फ्रीजर में रखी हुई थी।खतौली निवासी चंदा अरोड़ा (40) की शादी जून 2012 में शास्त्रीनगर सेक्टर-दो निवासी टेंट व्यवसायी संजय लूथरा से हुई थी। चंदा अरोड़ा खतौली ब्लॉक के ग्राम लोहड्डा स्थित प्राथमिक स्कूल में शिक्षिका थीं। शनिवार को वह पति के साथ खतौली गई थीं। रात को छोटी बहन को मुजफ्फरनगर में घर छोड़ने के बाद वह मेरठ लौट आए थे।चंदा के पिता ओमप्रकाश के अनुसार, शनिवार रात 3:15 बजे संजय लूथरा का फोन आया और चंदा की मौत होने की खबर दी। 5:50 बजे मायकेवाले ससुराल में पहुंच गए। चंदा की लाश डीप फ्रीजर में रखी थी। पति के अनुसार, उसकी मौत हार्टअटैक से हुई है। वहीं पिता ओमप्रकाश के अनुसार, बेटी के चेहरे, गले पर चोट के निशान थे। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इससे पहले पुलिस की फोरेंसिक टीम ने भी मुआयना किया।

तीन के विरुद्ध तहरीर
मृतका के भाई ने बताया कि संजय लूथरा ने एक दिन पहले ही चंदा का 50 लाख रुपए का बीमा कराया था। संजय के इरादे शुरू से ही गलत थे। आरोप है कि वह दहेज के लिए पत्नी की पिटाई करता था। मृतका के पिता ने उसके पति संजय लूथरा, जेठ नवीन व जेठानी शालू के खिलाफ हत्या की तहरीर दी है। पुलिस ने संजय को हिरासत में ले लिया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर ही विधिक कार्रवाई होगी। फिलहाल पति से पूछताछ जारी है। - प्रेमचंद शर्मा, इंस्पेक्टर थाना नौचंदी