मुंबई। मुंबई पुलिस ने फेसबुक, यूट्यूब के ज़रिए अधिक से अधिक पैसा कमाने के लिए अश्लील वीडियो बनाने वाले एक युवक समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. बताया गया है कि आरोपी लोगों को गलत जानकारी देकर अश्लील वीडियो बनाते थे. उन्होंने कई लड़कियों के अश्लील वीडियो बनाए साथ ही उन्हें धमकाते भी थे. आरोपी लड़कियों को प्रैंक करने की बात कहकर बुलाते थे और बाद में वीडियो में अश्लील हरकत की जाती था. अश्लील शब्दों का इस्तेमाल भी किया जाता था. पुलिस सूत्रों के अनुसार कोविड काल में ऐसे वीडियो की संख्या में बढ़ोतरी हुई है. 17 यूट्यूब चैनलों पर 300 से ज़्यादा वीडियो बनाए गए हैं. ऐसे वीडियो के ज़रिए फेसबुक, यूट्यूब के करीब ऐसे 17 चैनलों ने दो करोड़ रुपये कमाए. कुछ पीड़ित महिलाओं की ओर से की गई शिकायत के आधार पर पुलिस ने कार्रवाई की. बहरहाल पुलिस ने तीन आरोपियों को पॉक्सो के मामले में गिरफ्तार किया है. बताया गया है कि इस मामले में मुख्य आरोपी 29 साल का मुकेश गुप्ता है और वह साल 2008 में कक्षा 10 का टॉपर था. वह अभी ट्यूशन पढ़ाता है. वह नाबालिग लड़कियों को भी प्रैंक में शामिल होने की बात कहकर बुलाता था और बाद में अश्लील वीडियो बनाता था. वहीं पुलिस यूट्यूब से बात करके इन वीडियो को हटवाने की बात कर रही है.