टोंक. जिले में टोंक-जयपुर नेशनल हाइवे 52 (NH 52) के सोहेला बायपास पर बीती देर शाम एक दर्दनाक सड़क हादसे में एक छात्रा की मौत हो गई. छात्र की मौत लोक परिवहन बस द्वारा कुचलने से हुई, असल में वह उस बस से उतर रही थी, तभी बस ड्राइवर ने बस चला दी और छात्रा बस के नीचे आ गई. बस उसे कुचलते हुए निकल गई. इससे छात्रा की मौके पर ही मौत हो गई.

जानकारी के मुताबिक, छात्रा आरती सांखला जयपुर में हुए NCC शिविर में भाग लेने के बाद रोडवेड की बस से अपने पिता के साथ सोहेला लौट रही थी. आरती जब वह बस से उतर रही थी, तभी चालक द्वारा बस को चला देने से उसका संतुलन बिगड़ गया और वह पिछले टायर के नीचे आ गई, जिससे उसकी मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई. इस घटना की जानकारी मिलते ही मौक़े पर ग्रामीणों की भारी भीड़ जमा हो गई. आक्रोशित लोगों द्वारा जाम लगा दिया गया. भीड बढ़ती देख बरौनी पुलिस थाने के अलावा सदर व पीपलू थाने के पुलिसकर्मी भी मौके पर पहुंचे व समझाइश का प्रयास किया.

मामला बढ़ता देख सीओ पीपलू, सीओ टोंक भी सोहेला पहुंचे और आक्रोशित ग्रामीणों के साथ समझाइश  की. लोगों की मांग थी कि सभी बसों का संचालन बायपास की जगह गांव होते हुए किया जाए, साथ ही वहां बस स्टैंड भी बनवाया जाए. लगभग ढाई घंटे तक चला यह जाम रात 9.30 बजे उस समय हटा जब पुलिस अधिकारीयों ने ग्रामीणों की मांग को उच्चाधिकारीयों तक पहुंचाने का आश्वासन दिया. बरौनी पुलिस द्वारा शव रात को ही लाकर सआदत अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया है, जहां आज मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम के बाद उसे परिजनों को सौंपा जायेगा. पुलिस ने बस चालक के विरूद्ध मामला भी दर्ज कर लिया है.