टेक्सस। अमेरिका के टेक्सस में ऐसी रेकॉर्डतोड़ सर्दी शायद ही कभी देखी गई हो। सर्दी के कारण बिजली ठप है और लोग ठंड में ठिठुरने को मजबूर हैं। ऐसे वक्त में जब किसी के दर्द को सबसे ज्यादा समझे जाने की जरूरत होती है, लोगों का क्रूर चेहरा सामने आने लगा है। यहां पालतू जानवरों को उनके हाल पर छोड़ दिया गया है जिससे वे सर्दी में तड़प रहे हैं। ऐसे ही एक मामले में एक कुत्ते की मौत होने पर प्रशासन ने उसके मालिक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है। जानवरों के खिलाफ क्रूरता रोकने वाली एसपीसीए ने बताया है कि यहां एक दुकान के सामने 6 कुत्तों को छोड़ दिया गया था। इनमें से एक की मौत हो गई। उसके ऊपर बर्फ जमा हो गई थी। ह्यूस्टन पुलिस विभाग के साथ मिलकर सोसायटी को एक बेहद बीमार कुत्ता भी मिला। एसपीसीए के जांचकर्ता का कहना है इस तरह कड़ाके की सर्दी में आप अपने जानवरों को बाहर उनके हाल पर नहीं छोड़ सकते हैं। पांच कुत्तों को वेटेरिनरी होम भेज दिया गया है और उनके मालिक की सुनवाई की जाएगी।
  हैरिस काउंटी ऐनमिल क्रुएलटी टास्क फोर्स ने आठ कुत्ते और एक सूअर को बरामद किया। बार्टन रे वाइक नाम के शख्स को हिरासत में लेकर जानवरों के खिलाफ क्रूरता का केस दर्ज किया गया। जानवरों को ह्यूस्टन ह्यूमेन सोसायटी ले जाया गया, जहां उनका इलाज किया गया। काउंटी के प्रीसिंक्ट 5 के पुलिस कॉन्स्टेबल टेड हीप का कहना है कि जमा देने वाले तापमान में जानवरों को बाहर छोड़ना अपराध है। इस तरह की रिपोर्ट्स की जांच में जोरो टॉलरेंस की नीति अपनाई जाती है। टेक्सस में इन दिनों आर्कटिक के चलते इतनी सर्दी पड़ रही है कि एक घर के अंदर फिश टैंक का पानी ही जम गया। इसमें रहने वाली मछली की भी मौत हो गई। वॉलंटिअर्स जानवरों को बचाने के लिए मशक्कत कर रहे हैं। स्टेट के दक्षिणी तट पर समुद्री कछुओं को बचाने के लिए टीमें पहुंची हैं। प्राइमैरिली प्राइमेट्स नाम की एक नॉन-प्रॉफिट सैंक्चुअरी ने बताया है कि 78 एकड़ की एक प्रॉपर्टी में जानवरों को बचाने पहुंचे तो बंदरों, लेमूर और एक चिंपाजी समेत 12 जानवरों की मौत हो गई थी।