पटना |बिहार से कोरोना के पांच नए संक्रमित मिले हैं। खास बात यह है कि ये पांचों मरीज बेगूसराय जिले से मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग ने रविवार को जारी रिपोर्ट में इसकी पुष्टि की है। विभाग के अनुसार शनिवार-रविवार के बीच 1.18 लाख से अधिक टेस्ट में पांच रिपोर्ट पाजिटिव आई है। बीते 24 घंटे में पूर्व से कोरोना संक्रमित रहा एक व्यक्ति स्वस्थ हुआ है। राज्य में अब एक्टिव मरीजों की संख्या 47 रह गई है। एक दिन पहले यानी शनिवार को जारी रिपोर्ट में बताया गया था कि 24 घंटे के अंदर राज् में कोविड का एक भी नया केस नहीं मिला। हालांकि पटना में स्वास्थ् विभाग का कहना है कि शहर में कोविड के केस बेतहाशा बढ़ रहे हैं। इसको देखते हुए विभाग सतर्क है।

49 हजार को लगाए गए टीके

प्रदेश में रविवार को 49 हजार लोगों को कोविड के टीके लगाए गए। कोविन पोर्टल पर रात साढ़े आठ बजे तक अपलोड आंकड़ों के मुताबिक राज्य में रविवार को 2166 कोविड टीकाकरण केंद्र बनाए गए थे। जहां समाचार लिखे जाने तक 49 हजार लोगों को टीके लगाए जा चुके थे। बता दें कि प्रदेश में विगत 10 महीने में 6.16 करोड़ लोगों का टीकाकरण किया गया है। 4.72 करोड़ लोगों को अब तक वैक्सीन की पहली और 1.43 करोड़ को दोनों डोज दी जा चुक है।

पटना में कोरोना के 23 एक्टिव केस

बीते 10 दिनों में राजधानी में कोरोना के 23 एक्टिव केस मिले हैं। इन लोगों के संपर्क में आए लोगों की भी जांच की जाएगी। इनमें दानापुर कैंट इलाके के एक ही परिवार के तीन लोग संक्रमित मिले हैं। दानापुर के एक युवक हाल में ही दूसरे प्रदेश से आया था। इसके बाद उसे तीन-चार दिनों तक बुखार आने के बाद उसके माता-पिता को बुखार आया था। इसके बाद तीनों की कोविड जांच कराई गई, जहां तीनों संक्रमित मिले। इसके बाद से तीनों होम आइसोलेशन में ही हैं।

वहीं, पुनपुन इलाके में एक ही परिवार के तीन लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं। बुखार आने के बाद राजधानी के एक निजी अस्पताल में कोरोना जांच कराई गई, जहां वह संक्रमित मिला। इसके बाद पुनपुन के पीएचसी प्रभारी को मामले की सूचना दी गई। सिविल सर्जन डा. विभा कुमारी सिंह ने बताया कि 23 एक्टिव केस हैं। इनसे मिलने वाले लोगों की जांच कराने को कहा गया है। अभी सभी के कांटेक्ट हिस्ट्री की जांच कराई जा रही है।

पूजा पंडालों में 200 लोगों की हुई जांच

पूजा पंडालों में कोरोना संक्रमण को लेकर 200 लोगों की जांच हुई। सिविल सर्जन ने बताया कि पूजा पंडालों में एएनएम की कोरोना जांच के लिए ड्यूटी लगाई गई थी। इसमें अष्ठमी के दिन 89 लोगों ने कोरोना की जांच करवाई, जबकि नवमी के दिन 111 लोगों की जांच हुई। इसमें सभी मरीज कोरोना निगेटिव मिले।