हिसार । हरियाणा के हिसार जिले में दो दिनों में तीन नाबालिग बेटियों की शादी प्रशासन ने रुकवाई है। इन नाबालिग लड़कियों की शादी गुपचुप तरीके से परिजन कर रहे थे। इससे पहले ही लोगों ने जिला महिला एंव बाल संरक्षण अधिकारी बबीता चौधरी की टीम को सूचित कर दिया। जानकारी के मुताबिक, बधावड़ गांव में यहां एक 17 वर्षीय बेटी को भुन्ना के समीप एक गांव के शख्स के साथ ब्याहा जा रहा था। बारात आती, इससे पहले ही जिला महिला एंव बाल संरक्षण अधिकारी बबीता चौधर,सहायक सचिन मेहता व बरवाला पुलिस के साथ पहुंच गईं। यहां बयान लेकर शादी को रुकवाया गया। इसके साथ ही परिवार की काउंसलिंग भी की गई। वहीं, एक दिन पहले लुदास गांव में दो नाबालिग बेटियों को ब्याहने की तैयारी चल रही थी, जिसमें एक 15 वर्ष की और दूसरी 17 वर्ष की उम्र की बेटियां थी। बता दें कि दूसरी बेटी की शादी 20 जुलाई को जींद में होनी थी। यह बारात आनी थी, इससे पहले ही शादी को रुकवा दिया गया। वहीं, छोटी बेटी की शादी चंडीगढ़ तय की गई और गोद भी भर दी गई थी। विभाग की टीम ने दोनों शादी रुकवा कर दोबारा से निरीक्षण करने की बात कही है।