गोरखुपर । गोरखपुर में दो सहेलियों के बीच प्यार हो गया और दोनों घर छोड़कर फरार हो गईं। दोनों एक ही स्कूल में पढ़ाई करती थीं।  जानाकारी के मुता‎बिक, दोनों सहेलियों में से एक नाबालिग थी, जिसके बाद नाबालिग लड़की के घर वालों ने अपहरण का मुकदमा दर्ज करा दिया। ‎तहरीर के आधार पर पु‎लिस ने दोनों की तलाश की और जलांधर से बरामद ‎किया। इस दौरान दोनों के समलैंगिक होने की बात सामने आयी। इसके बाद घरवालों ने दोनों लड़कियों को खूब समझाने की कोशिश की। लेकिन, दोनों नहीं मानीं और शादी करने की जिद पर अड़ी रहीं। इस पर पुलिस ने अपहरण के आरोप में बालिग सहेली को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया। ये मामला गोरखपुर के गीडा थाना क्षेत्र के गाहासाड़ का है, यहां श्वेता और साबित्री की दो लड़कियां साथ में पढ़ती थीं। साथ में एनसीसी ज्वाइन किया और इसी दौरान दोनों में प्यार हो गया। जब उन्हें लगा कि उनके घरवाले और समाज उनके प्यार को मान्यता नहीं देगा तो दोनों ने घर छोड़कर भागने का फैसला किया। इसके बाद दोनों लड़कियां अपने घर से भाग गईं। इसके बाद नाबालिग लड़की की मां ने पुलिस में शिकायत दी। शिकायत में बताया कि गांव की ही एक दूसरी लड़की जो उसके साथ पढ़ती है, परिवार के साथ मिलकर उसकी लड़की का अपहरण कर लिया है। तहरीर मिलने के बाद पुलिस जब सक्रिय हुई और जांच शुरू किया तो समलैंगिकता का मामला सामने आया। इसके बाद पुलिस ने दोनों को पकड़ लिया। लड़कियों का कहना था कि समलैंगिकता कानूनी रूप से जायज है। इस पर पुलिस ने बालिग लड़की के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज कर बालिक लड़की को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।