कच्छ | गुजरात समेत देशभर में कोरोना की दूसरी लहर ने सरकार और जनता दोनों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं| गुजरात के सीमावर्ती जिले कच्छ में कोरोना के तेजी से मामले सामने आ रहे हैं| क्रांतिकारी श्यामजी कृष्ण वर्मा कच्छ यूनिवर्सिटी में कोरोना की दस्तक के बाद इसे 5 अप्रैल तक बंद कर दिया गया है| यूनिवर्सिटी में रजिस्ट्रार, परीक्षा निदेशक, अध्यापक, सिक्युरिटी गार्ड और उनके परिजनों समेत कुल 15 लोगों के संक्रमित होने से हड़कम्प मच गया है| इससे पहले भी यूनिवर्सिटी कर्मचारियों के संक्रमित होने पर यूनिवर्सिटी को तीन दिनों के लिए बंद किया गया था| फिर एक बार यूनिवर्सिटी में कोरोना संक्रमण बढ़ने से यूनिवर्सिटी को बंद रखने काफैसला किया गया है| इस दौरान विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन शिक्षा यथावत रहेगी|