कोटा. कोचिंग सिटी कोटा में एक युवक का अपहरण (Kidnap) कर उसे एसिड पिलाकर हत्या (Muder) कर देने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर इसकी जांच शुरू कर दी है. हालांकि पुलिस मामले को थोड़ी शंका (Doubt) की दृष्टि से देख रही है. क्योंकि अभी तक हत्या का कोई कारण सामने नहीं आया है. पुलिस परिजनों की रिपोर्ट के आधार पर सभी तथ्यों को जांचने में जुटी है.

जानकारी के अनुसार किशनपुरा तकिया निवासी युवक मनोज की गुरुवार को देर रात एमबीएस अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई थी. मनोज का दो दिन से अस्पताल में इलाज जारी था. परिजनों ने दो दिन पहले चाकू की नोक पर मनोज का अपहरण किये जाने का आरोप लगाया है. उनका आरोप है कि आरोपी अपहरण के बाद मनोज को कोटा थर्मल के पीछे ले गये. वहां ले जाकर उससे मारपीट की गई. बाद में एसिड पिलाकर हत्या का प्रयास किया गया. मनोज उस समय तो बच गया, लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. पुलिस ने मौत के कारणों को संदिग्ध मानते हुए हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू की है.

घायल मनोज ने घर आकर बताई थी कहानी

परिजनों का आरोप है कि बदमाशों ने लिफ्ट देने के बहाने मनोज को रोका था. बाद में चाकू दिखाकर उसका अपहरण कर लिया. मारपीट कर उसे एसिड पिलाया गया, जिससे जिससे उसका मुंह झुलस गया था. घायल मनोज ने जैसे तैसे घर पहुंचकर पूरी आपबात बताई. उसके बाद वह बेहोश हो गया. उसे बेहोशी की हालत में ही एमबीएस अस्पताल में लाया गया था. वहां इलाज के दौरान गुरुवार देर रात को मनोज ने दम तोड़ दिया.

परिजनों ने पुलिस पर भी लगाये आरोप

परिजनों का यह भी आरोप है कि पुलिस को सूचना देने के बाद भी मामले में कोई कार्रवाई नहीं की गई. कुन्हाड़ी थाने के एसएचओ गंगा सहाय शर्मा ने कहा कि इस मामले में जानकारी मिलने के बाद वे अस्पताल पहुंचे थे लेकिन मनोज की हालत गंभीर होने के कारण पीड़ित के बयान दर्ज नहीं हो पाए थे. आज एमबीएस अस्पताल के मनोज के शव का पोस्टमार्टम करवाया जाएगा.