ऑफिस में अपने सहकर्मी से अच्छे संबंध बनाना जरूरी है। ऐसा भी होता है ये सहकर्मी आपके अच्छे दोस्त बन जाते हैं जिसके बाद आप कई बातें शेयर करने लगते हैं। यदि आप ऐसा करते हैं तो इसका नुकसान आपको भविष्य में उठाना पड़ सकता। उन बातों को जानें जो आपको ऑफिस के दोस्तों से नहीं करनी चाहिए
काम से परेशानी
हर कर्मचारी को अपने काम से कुछ शिकायत होती है, लेकिन अपनी ऑफिस के लोगों को बताना शुरू न कर दें। इसका असर आपकी छवि पर पड़ सकता है, लोगों को लगेगा कि आप हमेशा अपनी परेशानियां साझा करते रहते हैं।
दूसरे साथियों की बुराई
अगर आपको किसी साथी से दिक्कत है तो अपने सीनियर से इसकी बात करें। अगर आपको निजी तौर पर उससे कोई दिक्कत है तो उससे ही बात करें। कभी भी दूसरे साथी के बारें में अन्य साथी को ना बताएं क्योंकि भविष्य में ये आपके लिए परेशानी का कारण भी बन सकता है.
निजी बातें ना करें शेयर
ऑफिस में भले ही आपके खास मित्र हैं, लेकिन अपनी निजी बातें साझा ना करें। जब कभी भी आप ऐसा करते हैं, तो साथी आपकी निजी बातों का कोई फायदा उठा सकता है.
बॉस से हर कर्मचारी को कोई ना कोई दिक्कत होती है। इसलिए अगर कोई दिक्कत हो तो किसी अन्य कर्मचारी से इस बारें बात ना करें। कभी कभी ऐसी बातें आपके लिए दिक्कत पैदा कर सकती हैं.
कमाई और खर्च
भले ही हर कंपनी अपने कर्मचारियों को एक-दूसरे को वेतन बताने से मना करती है लेकिन अक्सर लोगों को यह बात पता चल ही जाती है। फिर भी खुलकर अपने वेतन या कमाई पर बात न करें।