मेलबर्न,ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने कहा कि रविवार (8 मार्च) को खेले जाने वाले महिला टी20 विश्व कप फाइनल में वह अपनी टीम का समर्थन करेंगे लेकिन अगर भारत चैम्पियन बना तो इससे क्रिकेट के जूनूनी देश में नई शुरुआत हो सकती है। ब्रेट ली ने आईसीसी के लिए अपने कालम में लिखा, ''एक ऑस्ट्रेलियाई के तौर पर मैं चाहूंगा कि मेग लैनिंग की टीम चैम्पियन बने। लेकिन अगर भारत पहली बार चैम्पियन बनता है तो पहले से ही इस खेल के जूनूनी देश में महिला क्रिकेट को लेकर कई बदलाव आ सकता है।''

उन्होंने कहा, ''जिस तरह की नई प्रतिभा इस खेल में आ रही है उसे देखते हुए यह बड़ी शुरुआत हो सकती है।'' इस पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया को 16 साल की भारतीय सलामी बल्लेबाज शैफाली शर्मा से निपटने के तरीके को ढूंढना होगा।

उन्होंने कहा, ''भारत के पास शैफाली के रूप में विश्व क्रिकेट की सबसे प्रतिभाशाली खिलाड़ी में से एक है। ऑस्ट्रेलिया को मैच जीतने के लिए उसे सस्ते में निपटाना होगा।''

ब्रेट ली ने कहा, ''मैं इस सलामी बल्लेबाज से काफी प्रभावित हूं। यह विश्वास कर पाना मुश्किल है कि वह सिर्फ 16 साल की है। वह जिस तरह से गेंद पर प्रहार करती है उससे उसका आत्मविश्वास और क्षमता दिखती है।''