गोपालगंज. जिला पुलिस ने एटीएम का क्लोन (ATM Cloning) बनाकर फ्रॉड करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के चार कुख्यात साइबर अपराधियों (Cyber Criminals) को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार किए गए अपराधियों के पास से पुलिस ने एक ह्युंडई क्रेटा कार, 3 मोबाइल फोन, लूटी गई 3 एटीएम (ATM) और एक पॉस मशीन भी जब्त किया है. गिरफ्तार किए गए सभी अपराधी एटीएम का क्लोन बनाकर साइबर निकासी करते थे और लूटे गए पैसे से लग्जरी कार खरीदकर ऐश करते थे.

यह कार्रवाई नगर थाना पुलिस द्वारा शहर के मौनिया चौक पर की गई. सदर एसडीपीओ नरेश पासवान ने बताया कि शहर के एक एटीएम सेंटर से दो महिलाओं को मदद करने के नाम पर एटीएम कार्ड बदलकर फ्रॉड करने की कोशिश की गई, इसी दौरान महिलाओं ने शोर मचा दिया. इसके बाद पुलिस ने एटीएम ले कर भाग रहे दो अज्ञात साइबर अपराधियों को शहर के मौनिया चौक से पकड़ लिया. पुलिस के मुताबिक पकड़े गए अपराधियों से जब पूछताछ की गई तो अपराधियों ने इस गिरोह के कई अन्य सदस्यों का नाम लिया.

इसके बाद पुलिस ने दो और गिरोह के सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया है. सदर एसडीपीओ के मुताबिक गिरफ्तार किए गए साइबर अपराधियों के पास से झारखंड नंबर का हुंडई क्रेटा कार, तीन मोबाइल फोन, 3 एटीएम और एक बैंक pos मशीन जब्त किया है. सदर एसडीपीओ के मुताबिक गिरफ्तार किए गए अपराधियों के द्वारा एटीएम मशीन से पैसा निकालने के दौरान लोगों को झांसा देकर उनके एटीएम का क्लोन तैयार किया जाता था और फिर उस एटीएम से इनके द्वारा pos मशीन के द्वारा पैसे की निकासी की जाती थी.

पुलिस ने pos मशीन को भी जब्त किया है जिससे पैसे की निकासी की जाती थी. इस मामले में पुलिस ने सारण जिले के तीन और झारखंड के जमशेदपुर के एक समेत कुल चार साइबर अपराधियों के गिरफ्तार किया है. इस गिरोह के अन्य सदस्यों की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस के द्वारा छापामारी की जा रही है.