अहमदाबाद | खाद्य एवं औषधि आयुक्त डॉ. एचजी कोशिया ने स्पष्ट किया है कि राज्य में रेमडिसीवर इंजेक्शन समेत अन्य दवाईयां पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं| राज्य के नागरिकों को दवाईयों की कमी की चिंता या भयभीत होने की जरूरत नहीं है| दरअसल राज्य में कोरोना का कहर बढ़ता जा रहा है और ऐसे में कोरोना उपचार में उपयोग किया जानेवाले रेमडेसिवीर इंजेक्शन की कमी खबर सामने आने के बाद डॉ. एचजी कोशिया ने स्पष्ट किया है कि स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की अग्र सचिव डॉ. जयंति रवि और खाद्य एवं औषधि नियमन विभाग की निगरानी में रेमडेसिवीर इंजेक्शन का पर्याप्त स्टॉक उपलब्ध कराया गया है| आज राज्य के सभी जिलों के दवाई बाजार और प्राइवेट अस्पतालों में 13860 रेमडेसिवीर इंजेक्शन मुहैया करवाए गए हैं| जिसमें अहमदाबाद में 5478, वडोदरा में 2290, सूरत में 1852, राजकोट में 216 और मेहसाणा में 414 इंजेक्शन उपलब्ध करवाए गए हैं| इसके अलावा कंपनी के डिपो में फिलहाल 19105 इंजेक्शन का स्टॉक है, जो अन्य जिलों में वितरण किया जाएगा| इस प्रकार कुल 32965 रेमडेसिवीर इंजेक्शन अलग अलग जिलों में वितरित किए जाएंगे| उन्होंने बताया कि रेमडेसिवीर इंजेक्शन के उत्पादकों में से एक गुजरात की जायड्स कैडिला कंपनी 30000 इंजेक्शन का दैनिक उत्पादन करती है| कोरोना के उपचार के लिए प्रत्येक मरीज को 6 इंजेक्शनों की जरूरत होती है और प्रति दिन 5000 मरीजों का उपचार किया जा सके, इतने इंजेक्शन जायड्स कैडिला द्वारा किया जाता है| डॉ. एचजी कोशिया ने मीडिया के माध्यम से गुजरात के लोगों से अपील की है कि कोरोना के उपचार के लिए उपयोग किए जाते मेडिकल ऑक्सीजन, रेमडेसिवीर इंजेक्शन, फेवीपिरवीर टैबलेट इत्यादि का पर्याप्त स्टॉक सरकारी समेत प्राइवेट अस्पताल और दवाई बाजार में उपलब्ध है| इसलिए राज्य के नागरिक इंजेक्शन या दवाईयों को लेकर भयभीत या चिंता न करें|