नई दिल्ली । अडाणी ग्रुप भारत की तीसरी कंपनी बन गई है जिसका मार्केट कैप 100 अरब डालर के पार पहुंच गया है। मंगलवार को अडाणी ग्रुप की 6 में से 4 कंपनियों के शेयरों में तेजी देखी गई। बीएसई के मुताबिक अडानी समूह की कंपनियों का कुल मार्केट कैप 104 अरब से डालर से अधिक हो गया है। अडाणी समूह से आगे अब सिर्फ टाटा ग्रुप और रिलायंस ग्रुप ही हैं। मंगलवार को अडाणी एंटरप्राइजेज 5.6 फीसीदी की तेजी के साथ 1202 रुपए पहुंच गया, वहीं अडाणी गैस 6 फीसदी बढ़कर रिकार्ड 1248 रुपए पर पहुंच गया। अडाणी ट्रांसमिशन 5 फीसदी की तेजी  के साथ 1147 रुपए और अडाणी पोर्ट्स में 4 फीसदी की तेजी आई, जो कि अब तक का सबसे उच्च स्तर है। इसके अलावा अडाणी पावर में 5 फीसदी की तेजी के साथ 98.40 रुपए और ग्रीन एनर्जी 2.3 फीसदी  की तेजी के साथ 1194 रुपए पहुंच गया है। अडाणी ग्रुप से पहले टाटा ग्रुप और मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस ग्रुप ही 100 अरब डॉलर के पार पहुंच पाई हैं। टाटा समूह का मौजूदा मार्केट कैप 242 अरब डॉलर का है। वहीं रिलायंस समूह का मार्केट कैप 190 अरब डॉलर का है। पिछले एक साल के दौरान अडाणी समूह की सभी 6 लिस्टेड कंपनियों ने बेहतर रिटर्न दिया है। अडाणी समूह की पांच कंपनियों का मार्केट कैप एक ट्रिलियन से अधिक का है। जबकि अडानी पावर लिमिटेड की कुल संपत्ति 38000 करोड़ रुपए है। अडाणी समूह की पांच कंपनियां अडाणी एंटरप्राइजेज लिमिटेड, अडाणी ग्रीन एनर्जी, अडाणी ट्रांसमिशन, अडाणी पावर और अडाणी टोटल गैस लिमिटेड का किसी भी विश्लेषक से कोई कवरेज नहीं है।