फरीदाबाद। हरियाणा के फरीदाबाद में बिना विकास कराए और बिना बिल के लगभग 70 लाख रुपए की पेमेंट करने के मामले में सदर थाने में बीडीपीओ पूजा शर्मा, उनके भाई और गांव मुजेडी की पूर्व सरपंच समेत ग्राम सचिव के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। जिला उपायुक्त यशपाल यादव की शिकायत पर यह मामला दर्ज कराया गया है।
  एसीपी तिगांव पृथ्वी सिंह के मुताबिक गांव मुजेडी में बिना कोई विकास कार्य किए करीब 70 लाख रुपये पेमेंट कर दी गई। मामला सामने आने पर इसकी जांच के लिए एक कमेटी बनाई गई थी। अब उस कमेटी द्वारा जांच रिपोर्ट आने के बाद जिला उपायुक्त कार्यालय से मामला दर्ज कराने के लिए शिकायत भेजी गई थी। शिकायत के आधार पर करप्शन की धाराओं में बीडीपीओ पूजा शर्मा, उनके भाई ललित मोहन शर्मा, मुजेडी की पूर्व सरपंच रानी और निलंबित ग्राम सचिव विजयपाल के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि इन सभी आरोपियों की गिरफ्तारी संभव है। कोरोना काल में गांव मुजेडी में लगभग ढाई करोड़ रुपए की पेमेंट बिना उच्च अधिकारियों के संज्ञान में लाए ठेकेदारों को कर दी गई थी। जब मामले का पता चला और जांच हुई तो ग्राम सचिव विजयपाल और मुजेडी गांव की सरपंच रानी को सस्पेंड कर दिया गया था और एक जांच कमेटी बिठा दी गई। अब जांच कमेटी की रिपोर्ट आने के बाद बीडीपीओ पूजा शर्मा और उनके भाई की फर्म में पैसे ट्रांसफर करने का मामला भी उजागर हुआ है। साथ ही जांच रिपोर्ट को आधार बनाते हुए जिला उपायुक्त कार्यालय द्वारा पुलिस को शिकायत दी गई थी जिसके आधार पर यह मामला दर्ज किया गया है।