पटना । पटना में सार्वजनिक स्थलों पर बढ़ते कोरोना के कारण रामनवमी, छठ पूजा और जुमे की नमाज का आयोजन नहीं होगा। डीएम डॉ चंद्रशेखर सिंह ने यह निर्देश जारी किया है। इस आदेश का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित कराने के लिए डीएम और एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने नगर आयुक्त, एसपी ट्रैफिक, एसपी सिटी, एसपी ग्रामीण और सभी एडीएम, एसडीओ, एसडीपीओ, बीडीओ और सीओ समेत अन्य अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक की। डीएम डॉ चंद्रशेखर सिंह और एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए जनहित में सार्वजनिक स्थलों पर भीड़भाड़ नहीं लगाने तथा लोगों को सुरक्षित रहते हुए सावधानी से अपने-अपने घरों में ही पूजा आयोजित करने को कहा है, ताकि कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोका जा सके।

सरकारी दिशानिर्देश के अनुरूप अभी सार्वजनिक स्थलों पर किसी भी प्रकार के आयोजन पर रोक है। साथ ही सभी धार्मिक स्थल आम जनों के लिए बंद हैं। छठ घाटों पर छठ पूजा का आयोजन करना मना है। इससे संबंधित फ्लेक्स घाटों पर लगाने का निर्देश दिया गया है, ताकि लोगों को पूर्व से ही इसकी जानकारी रहे और लोग सुरक्षित होकर सावधानी से अपने-अपने घरों में ही छठ पूजा करें। कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए सार्वजनिक स्थल पर रामनवमी पूजा का आयोजन नहीं होगा।

अभी रमजान का महीना चल रहा है, तो जुमे की नमाज सार्वजनिक स्थल-मस्जिद में अदा नहीं करनी है, बल्कि लोग अपने अपने घरों में ही नमाज अदा करें। डीएम ने लोगों को जानकारी देने हेतु क्षेत्र में माइकिंग करने, संबंधित हितधारकों के साथ बैठक करने और सार्वजनिक स्थलों पर रामनवमी, छठ पूजा, जुमे की नमाज के आयोजन पर प्रतिबंध संबंधी जानकारी लोगों को देने के साथ कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया है।