शामली । शामली जनपद में एक युवक ने दहेज न मिलने पर अपनी पत्‍नी को गर्म प्रेस जला दिया। आरोप है कि पति ने अपनी पत्नी की हत्या करने का प्रयास किया है। बताया जा रहा है कि आरोपी ने पहले तो पीड़िता को फांसी देकर मारने की कोशिश की। इसमें विफल रहा तो पीड़िता को गर्म प्रेस से जला दिया। इससे पीड़िता गंभीर रूप से झुलस गई। सूचना पर पहुंचे परिजनों ने पीड़ितों को कांधला सीएचसी में भर्ती कराया है और इस पूरे घटनाक्रम की जानकारी पुलिस को दी है। आरोप है कि पति विवाहिता से दहेज में 1 लाख रुपए नकद और एक मोटरसाइकिल की मांग कर रहा था। दहेज न ला पाने की कीमत पीड़िता को कुछ इस तरह से चुकानी पड़ी है। यह मामला कांधला थाना क्षेत्र के गांव इस्सोपुरटील का है, जहां पर इस्सोपुरटील निवासी इरशाद पुत्र उमरदीन की शादी शबनम पुत्री आशिक अली निवासी जमालपुर थाना झिंझाना जनपद शामली से हुई है। शादी को करीब 3 साल हो चुके हैं। इसी बीच पीड़िता शबनम ने एक बच्ची को भी जन्म दिया है।
बताया जा रहा है पीड़िता शबनम की शादी मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम के अंतर्गत हुई थी। शबनम के पिता मेहनत मजदूरी का काम करते हैं। इरशाद के परिजनों की रजामंदी से यह शादी कराई गई थी, लेकिन जैसे-जैसे शादी का समय बीतता गया, वैसे-वैसे आरोपी इरशाद की हैवानियत बढ़ती चली गई। इरशाद आए दिन पीड़िता पर जुल्म करता रहा और उसको यातनाएं देता रहा। शबनम लोक लिहाज के कारण सब सहन करती रही और मायके वालों से इसका जिक्र तक नहीं किया। शबनम पर दहेज की मांग को लेकर रोज यातनाएं मिलतीं, लेकिन शबनम सब सह जाती क्योंकि उसको अपने पिता की माली हालत का पता था। आखिरकार जब शबनम ने दहेज की मांग पूरी करने से मना कर दिया, तो इरशाद ने उनकी हत्या करने की कोशिश की। आरोपी ने पहले तो विवाहिता की गला दबाकर हत्या करने का प्रयास किया, जिसमें वह विफल हो गया। इसके बाद आरोपी ने विवाहिता को बिजली की प्रेस से जला दिया। फिलहाल परिजनों ने शबनम को कांधला सरकारी हॉस्पिटल में भर्ती करा दिया है और पुलिस को लिखित शिकायत देकर कानूनी कार्रवाई की गुहार लगाई है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।