कोरबा कोरबा जिले में कोविड-19 से पीड़ित मरीजों के उपचार के लिए मेडिकल ऑक्सीजन की कोविड अस्पतालों में आसानी से उपलब्धता, वितरण और परिवहन सुनिश्चित करने के लिए जिला स्तरीय मेडिकल ऑक्सीजन कंट्रोल रूम बनाया गया है। कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने इस संबंध में जरूरी आदेश भी जारी किये है। इसके साथ ही एसडीएम सुनील नायक की अध्यक्षता में मेडिकल ऑक्सीजन समिति भी गठित की गई है। समिति में क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी विजेन्द्र पाटले, जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक ए.तिर्की, सीएमएचओ डाॅ. बी.बी. बोर्डे और सहायक औषधि नियंत्रक भीष्म देव सिंह कंवर को सदस्य के रूप में शामिल किया गया है।
मेडिकल ऑक्सीजन कंट्रोल रूम कलेक्टोरेट परिसर स्थित जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र कार्यालय में संचालित होगा। इसका दूरभाष क्रमांक 07759-225643 है। जिला स्तर पर गठित समिति जिले में संचालित कोविड अस्पतालों में भर्ती कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए मेडिकल ऑक्सीजन आवश्यकता की नियमित रूप से निगरानी करते हुए उसकी उपलब्धता सुनिश्चित करेगी। मेडिकल ऑक्सीजन के परिवहन में किसी भी प्रकार की समस्या आने पर तत्काल राज्य स्तरीय कंट्रोल रूम से समन्वय कर समस्या का निराकरण किया जाएगा।
     कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने जिले की तीन ऑक्सीजन उत्पादक यूनिटों के लिए तीन नोडल अधिकारी भी नियुक्त किए गए हैं। सर्वमंगला गैस के लिए जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक ए. तिर्की को नोडल अधिकारी बनाया गया है। बालाजी एयर प्रोडक्ट कोरबा के लिए औद्योगिक स्वास्थ्य और सुरक्षा विभाग के सहायक संचालक विजय सोनी और बालाजी गैसेस कोरबा के लिए छत्तीसगढ़ राज्य पर्यावरण संरक्षण मण्डल के सहायक अभियंता विजय पोर्ते को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। नोडल अधिकारी प्रतिदिन मेडिकल ऑक्सीजन उत्पादक इकाईयों की नियमित माॅनिटरिंग करेेंगे और ऑक्सीजन की उपलब्धता के संबंध में प्रतिदिन प्रतिवेदन जिला स्तरीय समिति को देंगे।