सिविल सेवा (प्रधान) परीक्षा- 2019 के लिए रिजर्व सूची जारी, 89 अतिरिक्त उम्मीदवारों की होगी नियुक्ति

यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (UPSC) ने सिविल सेवा (प्रधान) परीक्षा 2019 के लिए रिजर्व सूची जारी कर दी है। आयोग की तरफ से जारी नोटिफिकेशन और रिजर्व सूची के मुताबिक केंद्रीय कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग की मांग के अनुसार 89 अतिरिक्त उम्मीदवारों की नियुक्ति के लिए अनुशंसा की गई है। इससे पहले UPSC ने सिविल सेवा प्रधान परीक्षा का रिजल्ट 4 अगस्त, 2020 को जारी किया था। रिजल्ट के मुताबिक परीक्षा में कुल 927 रिक्तियों के लिए 829 कैंडिडेट्स का सिलेक्शन किया गया था। UPSC सिविल सेवा मुख्य परीक्षा 2019 में शामिल हुए कैंडिडेट्स अपना नाम या रोल नंबर आयोग की ऑफिशियल वेबसाइट, upsc.gov.in पर देख सकते हैं।

89 कैंडिडेट्स में से 73 जनरल कैटेगरी के

UPSC की तरफ से सोमवार को जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक रिजर्व सूची में शामिल किए गए 89 कैंडिडेट्स में से 73 कैटेगरी के हैं। वहीं, 14 कैडिडेट्स अन्य पिछड़े वर्गों से, आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग और अनुसूचित वर्ग से 1-1 उम्मीदवार शामिल हैं। दूसरी ओर, आयोग ने चार कैंडिडेट्स की उम्मीदवार अनंतिम रखने की घोषणा की है और एक कैंडिडेट्स का रिजल्ट रोके जाने की जानकारी साझा की है।

आरक्षित सूची में संशोधन संभव

इसके अलावा आयोग ने अपने नोटिफिकेशन में यह भी बताया कि सिविल सेवा परीक्षा 2019 के लिए जारी आरक्षित सूची में बदलाव हो सकता है। यह बदलाव माननीय न्यायालय लंबित के एक मामले के कारण संभव है। UPSC ने सिविल सेवा परीक्षा- 2019 के तहत लिखित परीक्षा का आयोजन सितंबर 2019 में किया था। दूसरी तरफ, प्रधान परीक्षा के तहत पर्सनॉलिटी टेस्ट का आयोजन फरवरी से अगस्त 2020 के बीच किया गया था। इसके बाद फाइनल रिजल्ट की घोषणा 4 अगस्त 2020 को की गई थी।