मुंबई । देश में कोरोना संक्रमण की शुरुआत के बाद से पहली बार एक दिन में एक्टिव केसों की संख्या 1 लाख के पार पहुंच गई है। सोमवार को सरकार की ओर से दिए गए आंकड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटे में देश भर में कोरोना के 1,03,558 नए केस दर्ज किए गए और 478 लोगों की इस दौरान मौत हो गई है। इसके साथ ही देश में फिलहाल एक्टिव केसों की संख्या 7 लाख को पार करते हुए 7,41,830 हो गई है। इससे पहले 12 फरवरी को यह आंकड़ा 135,926 का ही था। इस तरह से देखें तो 2 महीने से कम वक्त में ही एक्टिव केसों की संख्या में 6 लाख से ज्यादा का इजाफा हो गया है। बीते 26 दिनों से देश में कोरोना के एक्टिव केसों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। आधिकारिक आंकड़ों से पता चलता है कि महाराष्ट्र (जहां सबसे तेजी से बढ़ रहे वायरस को रोकने के लिए नए प्रतिबंध लगाए हैं) और पंजाब पिछले 15 दिनों में देश भर में नए कोविड-19 मामलों और मौतों की कुल संख्या के मामले में सबसे आगे हैं। इधर, महाराष्ट्र में 31 मार्च तक पिछले दो हफ्तों में 426,108 कोविड-19 मामले सामने आए हैं। इसी अवधि में पंजाब ने 35,754 मामले आए।  इसके अलावा कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार की रोकथाम के मद्देनजर निजी कार्यालय, थियेटर और सैलून आदि बंद रखने जैसी कड़ी पाबंदियां भी लागू रहेंगी। मुख्यमंत्री कार्यालय ने एक बयान में कहा कि सप्ताहांत में शुक्रवार रात आठ बजे से सोमवार सुबह सात बजे तक लॉकडाउन लागू रहेगा। इसके अलावा, सप्ताह के सभी दिनों में दिन के वक्त धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू की जाएगी। बयान के मुताबिक, आवश्यक सेवाओं से जुड़ी दुकानों, मेडिकल स्टोर एवं किराना दुकानों के अलावा सभी अन्य दुकानें, बाजार और शॉपिंग मॉल 30 अप्रैल तक बंद रहेंगे। ये सभी नए प्रतिबंध सोमवार रात आठ बजे से प्रभावी होंगे। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की अध्यक्षता में रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से हुई मंत्रिमंडल की विशेष बैठक के दौरान इन सभी प्रतिबंधों को लागू करने का निर्णय लिया गया।