लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) की अध्यक्षता में सोमवार को प्रदेश की पहली पेपरलेस कैबिनेट बैठक (Cabinet Meeting) होनी है. सुबह साढ़े नौ बजे मुख्यमंत्री के सरकारी आवास पर होने वाली इस कैबिनेट बैठक में आज पेश होने वाले बजट (UP Budget 2021) के मसौदे को मंजूरी दी जाएगी. इसके अलावा भारत के नियंत्रक व महालेखा परीक्षक के प्रतिवेदन (राजस्व) की रिपोर्ट पहले कैबिनेट से मंजूरी दिलाई जाएगी. इसके साथ ही कई अहम प्रस्तावों पर भी मुहर लगेगी. प्रदेश की पहली डिजिटल कैबिनेट बैठक के लिए सभी मंत्रियों को टैबलेट के साथ बुलाया गया है.  सभी मंत्रियों को दिए गए आईपैड में लोड किए गए कैबिनेट साफ्टवेयर के माध्यम से कैबिनेट एजेंडा, संबंधित निर्णयों की पत्रावली को देख सकेंगे. इसके लिए मंत्री पासवर्ड के जरिए खोलकर उसे देख सकेंगे और अपनी सहमति दे सकेंगे.

 

इन प्रस्तावों पर लग सकती है मुहर 
आज होने वाली कैबिनेट बैठक में भूतपूर्व सैनिकों को समूह 'ख' की नौकरियों में आरक्षण से संबंधित विधेयक के मसौदे को भी मंजूरी मिल सकती है.  बता दें पिछले साल मुख्यमंत्री ने भूतपूर्व सैनिकों को समूह 'ख' की नौकरियों में पांच प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण देने के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी. इसके अलावा जिन प्रस्तावों पर मुहर लग सकती है उनमें गन्ने से एथनॉल का उत्पादन करने के लिए आबकारी विभाग के गाइडलाइन पर विचार, अयोध्या में क्वीन हो मेमोरियल पार्क परियोजना  नजूल की 11658 वर्ग मीटर जमीन पर्यटन विभाग को निःशुल्क देने पर विचार, रामपुर के बिलासपुर में बस स्टेशन के निर्माण के लिए परिवहन विभाग को निःशुल्क भूमि देने और किशोर न्याय बोर्ड  के प्रस्ताव पर भी मुहर लग सकती है.