मथुरा। उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में देवरहा बाबा घाट पर स्नान करने के दौरान राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ व भाजपा के कार्यकर्ताओं की पुलिसकर्मियों से अभद्रता के आरोप को लेकर झड़प हो गई। जिलाधिकारी व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने जांच के बाद कार्रवाई करने का आश्वासन देकर मामला शांत कराया। इस मामले में जानकारी मिलने तक किसी भी पक्ष द्वारा कानूनी तौर पर मामला दर्ज नहीं कराया गया है।
  सरकारी सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, आरएसएस व भाजपा कार्यकर्ताओं ने नगर मजिस्ट्रेट एवं एसपी सुरक्षा से की गई शिकायत में आरोप लगाया है कि जब आरएसएस के जिला प्रचारक मनोज कुमार आदि कार्यकर्ता स्नान के लिए घाट पर जा रहे थे, तभी कुछ पुलिसकर्मियों ने उनसे अभद्रता कर दी। इसके बाद वृन्दावन में ही उक्त कार्यकर्ताओं द्वारा कई चौराहों पर मौजूद पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट का मामला सामने आया। बताया जा रहा है कि यह जानकारी होने के बाद कथित रूप से कुछ पुलिसकर्मियों ने भाजपा कार्यकर्ताओं पर लाठी बरसा दी, जिससे एक कार्यकर्ता चोटिल हो गया। इस बीच, भाजपा की ओर से जिला पंचायत सदस्य रह चुकी एक महिला कार्यकर्ता के बारे में थाना प्रभारी पर चप्पल उठाने की तस्वीरें वायरल हुईं। दूसरी ओर, जिला प्रचारक के साथ मारपीट की सूचना पर आरएसएस और भाजपा के शीर्ष पदाधिकारी और कार्यकर्ता बड़ी संख्या में कोतवाली पहुंच गए। उन्होंने वहां धरना-प्रदर्शन किया। नेताओं से वार्ता के बाद जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल व एसएसपी डॉ गौरव ग्रोवर ने उनको जांच कराकर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। नेता कथित रूप से दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई किए जाने की मांग कर रहे थे।