पटना. कोविड के बिहार में लगातार बढ़ रहे मामले (Bihar Corona Cases) को देखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने बिहारवासियों के नाम खुला पत्र लिखा है. सीएम नीतीश कुमार ने पत्र लिखते हुए सरकार की तैयारियां बताते हुए लोगो को आश्वस्त किया है, तो वहीं लोगों से कोविड (Covid-19) नियमों का सख्ती से पालन करने की भी अपील की है. सीएम नीतीश कुमार ने पत्र लिखते हुए कहा है कि एक बात फिर से कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं, जिससे लोगों को सुरक्षित रखने की सरकार की चिंता बढ़ गई है. अब तक कोरोना से सफलतापूर्वक बिहार लड़ा है.

सरकार के चलाये जा रहे अभियानों की दी जानकारी

सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि कोरोना महामारी एक आपदा है और हमने हमेशा कहा है कि सरकार के खजाने पर आपदा पीड़ितों का पहला हक है. लोगों को जानकारी देते हुए सीएम  कुमार ने बताया अब तक करोना को लेकर सरकार ने 10000 करोड से ज्यादा रुपए खर्च किए हैं. सीएम नीतीश कुमार ने जानकारी दी कि अब तक बिहार में 2 करोड़ 41 लाख से ज्यादा कोविड टेस्ट किया जा चुका है. बिहार में 10 लाख की जनसंख्या पर अब तक 1 लाख 88 हजार 804 टेस्ट किये गए हैं जो राष्ट्रीय औसत से ज्यादा है. बिहार मे कोरोना की रिकवटी रेट 97.58 प्रतिशत है जो राष्ट्रीय औसत से ज्यादा है. नीतीश कुमार ने बताया कि हालात को देखते हुए सार्वजनिक कार्यक्रम रद्द कर दिए गये हैं, साथ ही स्टेशनों और बस अड्डो पर जांच बढ़ा दी गई हैं.


कोरोना को लेकर लोगों से की अपील
कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए सीएम नीतीश कुमार ने लोगो से अपील करते हुए नियमो का सख्ती से पालन करने के बात कही है. नीतीश कुमार ने कहा कि सभी लोग मास्क जरूर लगाएं और बाहर निकलने पर दो गज की दूरी का सख्ती से पालन करें. गर्भवती महिलायें, बच्चे और बुजुर्गों का विशेष ख्याल रखें. इलाज जैसी विशेष परिस्थिति में ही बाहर निकलने की हिदायत दी है. 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगो को वैक्सीन जरूर लेने की अपील की है.