कोटा. कोचिंग सिटी कोटा शहर (Kota City) में सोमवार देर रात को एयरपोर्ट परिसर में भीषण आग (fierce fire) लग गई. तेज हवाओं के साथ आग एयरपोर्ट परिसर (Airport) में तेजी के साथ फैलती गई. आग की सूचना मिलने पर एयरपोर्ट और जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया. कोटा उत्तर व दक्षिण नगर निगम, कोटा थर्मल, डीसीएम फैक्ट्री और सिविल डिफेंस की दमकलों की मदद से आग बुझाई जा सकी. करीब 3 घंटे की मशक्कत के बाद आधी रात 2.30 बजे आग को पूरी तरह से काबू में किया जा सका.

जानकारी के अनुसार आग रात करीब 11.30 बजे लगी. देखते ही देखते उसने विकराल रूप धारण कर लिया. आग सूखी घास में लगी होने के कारण वह तेजी के साथ फैलती गई. करीब 7 दमकलों की मदद से आग बुझाई गई. आग इतनी भीषण थी कि कोटा- झालावाड़ नेशनल हाईवे की ओर बनी एयरपोर्ट की 12 फीट की ऊंची सुरक्षा दीवार को आग की लपटें छू रही थी. ऐसे में रोड से गुजरने वाले वाहनों की सुरक्षा को देखते हुए पुलिस प्रशासन ने नेशनल हाईवे की झालावाड़ की ओर से एरोड्रम को जाने वाली सड़क को वन-वे कर दिया गया.

एक दमकल मिट्टी में जा धंसी

एयरपोर्ट के आसपास के क्षेत्र की बिजली सप्लाई बंद करवा दी गई. शहर के विभिन्न थानों की पुलिस का जाब्ता आग बुझाने के रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान एयरपोर्ट के आसपास तैनात रहा. लोग सड़क के किनारे से एयरपोर्ट में लगी आग को देखते रहे. वहीं आसपास के मकानों में रहने वाले लोग छतों पर चढ़ गये. आग बुझाने के दौरान एक दमकल मिट्टी में जा धंसी और एक फायरमैन के मामूली चोट लगी.


एयरपोर्ट से अभी कोई हवाई सेवा संचालित नहीं है

कोटा एयरपोर्ट से अभी कोई हवाई सेवा संचालित नहीं है. ऐसे में यह राहत की बात रही कि आग से किसी तरह का जोखिम नहीं था. एयरपोर्ट अथॉरिटी के द्वारा कड़े सुरक्षा इंतजाम एयरपोर्ट पर किए हुए हैं. लेकिन उसके बावजूद हर साल इस तरह की आग कोटा एयरपोर्ट परिसर में लगती है. कड़े सुरक्षा होने के बावजूद एयरपोर्ट परिसर में आग लगना सुरक्षा में चूक है. इस बात को लेकर नगर निगम के अग्निशमन अनुभाग के अधिकारियों ने कई बार एयरपोर्ट अथॉरिटी प्रशासन से सुरक्षा दीवार के गैप को बंद करने की बात कही है.

आग लगने का यह है बड़ा कारण
2 से 3 बस्तियां एयरपोर्ट की दीवार के पास बसी हुई है. वहां से कुछ लोग व स्मैकची अंदर शौच करने के लिए पहुंच जाते हैं. वे वहां बीड़ी सिगरेट जलती हुई छोड़ देते हैं. इसी कारण एयरपोर्ट परिसर में बरसात के दौरान उगने वाली घास गर्मी के मौसम में सूखने पर आग पकड़ती है. एयरपोर्ट के पास स्थित पेट्रोल पंप को लेकर बड़ा खतरा आपसे हमेशा बना रहता है.