पहले ही ओवर में भारत ने विकेट गंवाया, शुभमन गिल आउट; इंग्लैंड पहली पारी में 205 रन पर ऑलआउट

भारतीय ओपनर शुभमन गिल बिना खाता खोले पवेलियन लौटे। जेम्स एंडरसन ने उन्हें LBW किया।

भारत और इंग्लैंड के बीच चौथा और आखिरी टेस्ट अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेला जा रहा है। इंग्लैंड टीम टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए 205 रन ही बना सकी। जवाब में भारतीय टीम ने पहली पारी के पहले ओवर में बिना खाता खोले विकेट गंवा दिया। फिलहाल, ओपनर रोहित शर्मा और चेतेश्वर पुजारा क्रीज पर हैं। मैच का स्कोरकार्ड देखने के लिए यहां क्लिक करें...

भारतीय ओपनर शुभमन गिल बिना खाता खोले पवेलियन लौटे। जेम्स एंडरसन ने उन्हें LBW किया।

अक्षर ने 4 और अश्विन ने 3 विकेट लिए

इंग्लैंड के लिए बेन स्टोक्स ने 55 रन, डैन लॉरेंस ने 46, ओली पोप ने 29 और जॉनी बेयरस्टो ने 28 रन बनाए। अक्षर पटेल ने 4 विकेट लिए। उनके अलावा रविचंद्रन अश्विन ने 3 और मोहम्मद सिराज ने 2 विकेट झटके।

अक्षर ने जैक क्राउली, डॉम सिबली, डैन लॉरेंस और डॉम बेस को आउट किया। सिराज ने बेयरस्टो और जो रूट को पवेलियन भेजा। वहीं, अश्विन ने ओली पोप, बेन फोक्स और जैक लीच को आउट किया। एक विकेट वॉशिंगटन सुंदर को मिला। उन्होंने उन्होंने बेन स्टोक्स को LBW किया। स्टोक्स ने टेस्ट करियर की 24वीं फिफ्टी लगाई।

इंग्लैंड की खराब शुरुआत, 30 रन पर 3 विकेट गंवाए

इंग्लैंड ने शुरुआत में 5 ओवर में बिना विकेट 10 रन बना लिए थे। यहां से विराट कोहली ने छठा ओवर स्पिनर अक्षर पटेल को थमाया। उन्होंने कोहली का फैसला सही साबित किया और ओवर की दूसरी बॉल पर ओपनर डॉम सिबली को क्लीन बोल्ड किया। सिबली 2 रन ही बना सके। अपने अगले ओवर में अक्षर ने जैक क्राउली (9) को मोहम्मद सिराज के हाथों कैच आउट कराया।

तीन पार्टनरशिप ने इंग्लैंड को 205 के स्कोर तक पहुंचाया

तीसरा झटका मोहम्मद सिराज ने 30 रन पर दिया। उन्होंने इंग्लिश कप्तान जो रूट को पवेलियन भेजा। इसके बाद जॉनी बेयरस्टो और बेन स्टोक्स ने 48 रन की पार्टनरशिप कर पारी को संभाला। बेयरस्टो के बाद स्टोक्स ने ओली पोप के साथ 5वें विकेट के लिए 43 रन जोड़े। यहां स्टोक्स पवेलियन लौट गए। तब पोप ने डैम लॉरेंस के साथ छठे विकेट के लिए 45 रन की पार्टनरशिप की। यहां से कोई बड़ी पार्टनरशिप नहीं हुई और इंग्लिश पारी सिमट गई।

भारतीय टीम में एक और इंग्लैंड टीम में 2 बदलाव

भारतीय टीम की प्लेइंग-11 में एक बदलाव किया गया। जसप्रीत बुमराह की जगह मोहम्मद सिराज को मौका मिला है। इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने प्लेइंग इलेवन में दो बदलाव किए हैं। उन्होंने पेसर जोफ्रा आर्चर और स्टुअर्ट ब्रॉड को बाहर किया। उनकी जगह डॉम बेस और डैन लॉरेंस को मौका दिया।

विराट ने धोनी के रिकॉर्ड की बराबरी

विराट कोहली ने महेंद्र सिंह धोनी के सबसे ज्यादा 60 टेस्ट में कप्तानी के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली। कोहली ने अब तक 59 में से 35 टेस्ट में टीम इंडिया को जीत दिलाई है। यह टेस्ट जीतने के साथ ही वे वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान क्लाइव लॉयड के सबसे ज्यादा टेस्ट जीतने के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगे। वे इस मामले में लॉयड के साथ चौथे नंबर पर आ जाएंगे।


दोनों टीमें:

इंडिया: शुभमन गिल, रोहित शर्मा, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, अक्षर पटेल, वॉशिंगटन सुंदर, इशांत शर्मा, मोहम्मद सिराज।
इंग्लैंड: डॉम सिबली, जैक क्राउली, जॉनी बेयरस्टो, जो रूट (कप्तान), बेन स्टोक्स, ओली पोप, बेन फोक्स (विकेटकीपर), डैन लॉरेंस, डॉम बेस, जैक लीच और जेम्स एंडरसन।

बुमराह की गैरमौजूदगी में सिराज को मौका

तेज गेंदबाजी जसप्रीत बुमराह निजी कारण से टेस्ट और टी-20 सीरीज से बाहर हो चुके हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो वे जल्द ही शादी कर सकते हैं। उसी की तैयारी के लिए छुट्टी ली है। बुमराह की गैरमौजूदगी में सिराज को मौका मिला है।

टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल के लिए भारत को मैच जीतना या ड्रॉ जरूरी

यह मैच ICC टेस्ट चैम्पियनशिप के लिहाज से भारतीय टीम के लिए काफी अहम है। फाइनल के लिए भारत को यह मैच जीतना या ड्रॉ कराना जरूरी है। न्यूजीलैंड पहले ही फाइनल में पहुंच चुकी है। इंग्लैंड टीम बाहर हो गई। यदि टीम इंडिया आखिरी टेस्ट हारती है, तो पॉइंट्स के आधार पर ऑस्ट्रेलिया टीम फाइनल के लिए क्वालिफाई कर लेगी। साथ ही यह सीरीज भी 2-2 से ड्रॉ हो जाएगी।

इसके साथ ही टीम इंडिया के पास ICC वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप में सबसे सफल टीम बनने का भी मौका है। भारत ने अब तक 6 टेस्ट सीरीज में 16 में से कुल 11 मैच जीते हैं और 4 हारे हैं। वहीं, इंग्लैंड ने 20 में से 11 जीते और 6 हारे हैं।


तीन स्पिनर्स के साथ उतरी इंडिया टीम

भारतीय टीम इस टेस्ट में भी पिछले मैच की तरह 2 तेज गेंदबाज और 3 स्पिनर के कॉम्बिनेशन के साथ उतरी है। स्पिनर की कमान एक बार फिर रविचंद्रन अश्विन और अक्षर पटेल संभाल रहे। तीसरे स्पिनर के तौर पर टीम में वॉशिंगटन सुंदर हैं।