अहमदाबाद | गुजरात में कोरोना की डरावनी रफ्तार को देख सरकार ने महत्वपूर्ण फैसला किया है| अहमदाबाद, वडोदरा, सूरत, राजकोट, जामनगर, भावनगर, जूनागढ़ और गांधीनगर महानगर पालिका के लिए आईएएस स्तर के 8 अधिकारियों को राज्य सरकार ने तत्काल प्रभाव से विशेष जिम्मेदारी सौंपी है| कोरोना के उपचार में डॉक्टरों के काम का निरीक्षण, निगरानी, संकलन और आनुषांगिक कार्य की जिम्मेदारी अधिकारियों को सौंपी है| मूल काम के साथ ही विभिन्न जिलों में कोविड केयर सेंटरों में डॉक्टरों के कामकाज के निरीक्षण की अतिरिक्त जिम्मेदारी भी डॉक्टरों को सौंपी गई है| राज्य सरकार ने अहमदाबाद जिले की जिम्मेदारी डॉ. मनीष बंसल (आईएएस), वन संरक्षक दिनेश रबारी को सूरत, आईएएस डॉ. हर्षित गोसावी को वडोदरा, आईएएस अमित यादव को गांधीनगर, आईएएस स्तुति चारण को राजकोट, जीएएस आरआर डामोर को भावनगर, आईएफएस आर धनपाल को जामनगर और आईएफएस डॉ. सुनीलकुमार बेरवाल को जूनागढ़ की जिम्मेदारी सौंपी गई है| बता दें कि गुजरात में खासकर अहमदाबाद, वडोदरा, राजकोट और सूरत में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है| रविवार को गुजरात में कोरोना के 2875 नए केस दर्ज हुए थे, जिसमें करीब आधे से अधिक मामले अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा और राजकोट के थे|