मेकअप प्रॉडक्ट्स लगाने का भी एक क्रम है। जब आप प्रॉडक्ट्स एक क्रम में लगाते हैं तो ये लंबे वक्त तक टिके रहते हैं। 
क्लींजिंग और टोनिंग के बाद फेस पर सिरम अप्लाई करें। इसकी हल्की सी लेयर ही लगाएं। सिरम में कुछ ऐसे इन्ग्रीडियेंट्स होते हैं जो स्किन को दूसरे केमिकल्स से स्किन के प्रटेक्ट करते हैं।
आई क्रीम से हटेगी फीनेस
सिरम की तरह ही आई-क्रीम को भी डायरेक्टली अप्लाई करना चाहिए। क्रीम की छोट सी बूंद को रिंग फिंगर की मदद से आंखों के चारों ओर लगाएं। इससे फीनेस और पिगमेंटेशन से बचाव होता है।
माइश्चराइजर के बाद सनस्क्रीन
माइश्चराइजर लगाने का स्टेप कभी भी मिस न करें। आपकी स्किन ऑइली ही क्यों न हो, ऐसा मॉइश्चराइजर लगाएं जो आपकी स्किन को सूट करे। अब आपको सनस्क्रीन लगाना है। सनस्क्रीन को बाद में लगाने का फायदा यह होता है कि यह बाहरी वातावरण और आपकी स्किन के बीच बैरियर बना देता है।
प्राइमर से बनाएं बेस
प्राइमर से आपके मेकअप प्रॉडक्ट्स को बेस मिलता है और ये लंबे वक्त तक टिके रहते हैं। अपनी त्वचा के अनुरुप प्राइमर चुनें।
फाउंडेशन की पतली लेयर लगाएं और इसको हलके हाथ से कवर करें। फाउंडेशन का चुनाव अपनी स्किन टोन को ध्यान में रखते हुए करें। यह भी एक बहस का मुद्दा है कि कंसीलर पहले लगाया जाए या फाउंडेशन! इसमें आप खुद ट्राई करके देख सकते हैं, जो आपको सूट करे उसे पहले लगाएं।
पाउडर से करें मेकअप सेट
आपने जो भी ऑइल बेस्ड या वॉटर बेस्ड प्रॉडक्ट्स लगाएं हैं उन्हें सेट करने के लिए ट्रांसल्यूसेंट या टिंटेड पाउडर लगाएं।
ब्रॉन्जर के बाद ब्लश
ब्रॉन्जर से आपको वार्म लुक मिलता है और यह आपके चीक्स डिफाइन करने के लिए होता है। ब्लश से पहले इसे अप्लाई करें।
आईशैडो, आईलाइनर फिर मस्कारा
पाउडर प्रॉडक्ट्स को क्रीम बेस्ड प्रॉडक्ट्स से पहले लगाएं। सबसे आखिरी में लिक्विड लाइनर और मस्कारा लगाएं।
लिप लाइनर फिर लिपस्टिक
पहले लिप लाइनर से होठों को शेप दें इसके बाद लिपस्टिक लगाएं।
ब्रोज आपके फेस का फ्रेम बनाती हैं और आपको यह स्टेप बिल्कुल मिस नहीं करना चाहिए। पेंसिल या पाउडर जो भी सूट करे उससे ब्रोज को डिफाइन करें।
सेटिंग स्प्रे से फाइनल टच
मेकअप पूरा हो जाने के बाद सेटिंग स्प्रे अप्लाई करें। यह लास्ट स्टेप है और इससे आपका मेकअप सेट रहेगा।