बीजिंग । पाकिस्तान में कोरोना वायरस के मरीजों की बढ़ती संख्या के बीच चीन ने कहा कि वह कोरोना वायरस के मरीजों के इलाज के लिए पाकिस्तान में एक अस्थाई अस्पताल का निर्माण करेगा। उल्लेखनीय है कि चीन ने कुछ समय पहले ही चिकित्सा दलों को पाकिस्तान भेजा है। 
स्वास्थ्य अधिकारियों ने सोमवार को कहा पाकिस्तान में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या 1,664 तक पहुंच गई है, जबकि इस महामारी से अब तक 18 लोगों की मौत हो चुकी है। चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा हाल ही में, यह महामारी पाकिस्तान में भी फैल रही है। हम उनकी हालत को अच्छी तरह से समझ सकते हैं। 
उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा चीन सरकार ने पाकिस्तान को जांच किट, मास्क, रक्षात्मक सूट और वेंटिलेटर आदि की आपूर्ति की है। हम पाकिस्तान में अस्थाई अस्पताल बनाने में भी मदद करेंगे। पिछले सप्ताह इस अस्पताल का निर्माण शुरू कर दिया गया है। चीन ने फरवरी की शुरूआत में वुहान में 2,300 बिस्तरों की क्षमता वाले दो अस्थाई अस्पतालों का निर्माण किया था। चुनयिंग ने कहा कि चीन ने कोरोना वायरस पर वीडियो कांफ्रेंस में शामिल होने के लिए पाकिस्तान को आमंत्रित किया है और चिकित्सा विशेषज्ञों की एक टीम इस्लामाबाद में है।
प्रवक्ता ने कहा चीन और पाकिस्तान गहरे दोस्त, रणनीतिक सहयोगी और साझेदार हैं। हमारे पास मुश्किल समय में एक दूसरे का समर्थन करने और मदद करने की अच्छी परंपरा है। पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी 16 मार्च को चीन की यात्रा पर गए थे और अपने चीनी समकक्ष शी जिनपिंग के साथ ही अन्य नेताओं से मुलाकात कर महामारी से जूझ रहे अपने मित्र देश के साथ एकजुटता प्रदर्शित की थी। गौरतलब है कि पाकिस्तान ने अपने एक हजार से अधिक नागरिकों को भी चीन से नहीं निकाला था, हालांकि इन लोगों ने बार-बार आग्रह किया था। पाकिस्तान ने कहा कि चीन ने उसके नागरिकों की देखभाल करने का वादा किया है।