सनातन धर्म में यूं तो 12 के 12 मास का ही अधिक महत्व है। परंतु ये सब महीने किसी ने किसी देवी-देवता को समर्पित माने जाते हैं। ऐसे में जो मास जिस देवता को समर्पित माना जाता है, उनकी आराधना करने का जितना महत्व होता है तो वहीं इस दौरान की गई पूजा का दोगुना फल प्राप्त होता है। जैसे कि सब जानके हैं कि आज से यानि 25 जुलाई से इस साल के श्रावण मास का आरंभ हो गया है। जिससे ठीक अगले दिन अर्थात 26 जुलाई को श्रावण मास का पहला सोमवार पड़ रहा है। इस दौरान में भगवान शिव की आराधना का अधिक महत्व है। इसके अलावा इस मास में शिव जी से जुड़ी कुछ चीज़ों को घर लाने से व्यक्ति की किस्मत चमक जाती है। मान्यता है कि विशेष तौर पर यदि कोई व्यक्ति सावन सोमवार के दिन इन चीजों को घर लाता है तो व्यक्ति के जीवन की सभी परेशानियां दूर होती हैं साथ ही साथ भाग्य भी बदल जाता है। इतना ही नहीं व्यक्ति को उन सभी चीज़ों की भी प्राप्ति होती है जिसे पाने के लिए वह लंबे से समय प्रयास कर रहा होता है। तो आइए जानते हैं कौन सी हैं वो चीज़ें-

गंगा जल-
सोमवार के दिन घर में गंगा जल लाना काफी शुभ माना जाता है। वास्तु और ज्योतिष शास्त्र के अनुसार गंगा जल को लाकर किचन में रखने से व्यक्ति की किस्मत बदल सकती है। साथ ही साथ घर में समृद्धि बढ़ती है तथा परिवार में सभी की तरक्की होती है।

रुद्राक्ष-
श्रावण मास के सोमवार को रुद्राक्ष लाकर अगर घर के मुखिया के कमरे में रखा जाए तो वहां रहने वाले सभी का भाग्ग चमक जाता है। साथ ही साथ घर की आर्थिक दिक्कतें दूर होती हैं और घर व जीवन में सकारात्मक ऊर्जा का वास होता है।

भस्म-
भगवान शंकर को भस्म अधिक प्रिय है। इसलिए सावन के सोमवार को घर में भस्म लाकर उसे भगवान शिव की मूर्ति के पास रखना चाहिए। कहा जाता है इससे भगवान शिव बेहद प्रसन्न होते हैं और भक्तों को मनचाहा वर प्रदान करते हैं।

चांदी का त्रिशूल-
श्रावण मास में विशेषतौर पर सोमवार के दिन चांदी का त्रिशूल घर लाना चाहिए कहा जाता है इससे घर की नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है। सोमवार के दिन तांबे या चांदी का नाग-नागिन का जोड़ा लाकर उसे घर के मुख्य दरवाजे के नीचे दबा देना से सभी प्रकार की समस्याएं दूर हो जाती हैं।