लखनऊ. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के आदेश के बाद बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) को उत्तर प्रदेश लाने की तैयारी चल रही है. इस बीच बड़ी खबर ये आ रही है कि बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को 8 अप्रैल के पहले किसी भी दिन बांदा जेल लाया जा सकता है. बताया जा रहा है कि मुख्तार को सड़क के रास्ते बांदा जेल लाया जाएगा. पंजाब सरकार का पत्र अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी को मिला है. पत्र में मुख्तार अंसारी को 8 अप्रैल से पहले उत्तर प्रदेश सरकार को हैंडओवर करने का जिक्र है. मऊ से बहुजन समाज पार्टी के विधायक बाहुबली मुख़्तार अंसारी की कस्टडी हस्तांतरण को लेकर पंजाब सरकार ने उत्तर प्रदेश सरकार को पत्र लिखा है.
मुख्तार अंसारी को यूपी के बांदा जेल में रखा जाएगा. वहां पर भी सुरक्षा के इंतजाम काफी सख्त कर दिए गए हैं. बांदा जेल के बाहर दो पुलिस चौकी बनाई गई है, जहां पर पीएसी की बटालियन को तैनात किया गया है. पंजाब सरकार के अपर मुख्य सचिव गृह ने उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी को पत्र लिखा है. जिसमें मुख्तार अंसारी का हैंडओवर आठ अप्रैल से पहले लेने का निर्देश है. पंजाब के रोपड़ जिला के रूपनगर जेल में बंद मुख्तार अंसारी को आठ अप्रैल से पहले से उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंपा जाएगा. बांदा जेल में शिफ्ट होने के बाद मुख्तार अंसारी पंजाब के केस में 12 अप्रैल की सुनवाई में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेश होगा.
पंजाब सरकार के अपर मुख्य सचिव गृह ने अपने पत्र में मुख्तार अंसारी के खराब स्वास्थ्य कारणों का भी हवाला दिया है. पत्र में लिखा गया है कि मुख्तार अंसारी का हैंडओवर लेने के दौरान विधिवत सुरक्षा और मेडिकल व्यवस्था करें. मुख्तार के टेकओवर के दौरान अच्छे वाहन का बंदोबस्त करने के साथ ही अंसारी की मेडिकल रिपोर्ट का भी ध्यान रखा जाए. इसके साथ ही पत्र में लिखा गया है कि 12 को मोहाली कोर्ट में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से पेशी के समय भी जेल में पुख्ता व्यवस्था करें.