आगामी तोक्यो ओलंपिक के लिये भारतीय रिकर्व तीरंदाजी दल के पुरूष वर्ग में अनुभवी तीरंदाज अतनु दास और तरूणदीप राय को जबकि महिला वर्ग में दीपिका कुमारी को शामिल किया गया है। पुणे में सैन्य खेल संस्थान में अंतिम चयन ट्रायल के बाद छह सदस्यीय दल (तीन पुरूष और इतनी संख्या में महिला तीरंदाज) का चयन किया गया। अतनु और तरूणदीप के अलावा भारतीय पुरूष टीम में प्रवीण जाधव,  अंकिता भकत और कोमोलिका बारी भी शामिल हैं। वहीं वर्ष 2016 में पहला ओलंपिक खेलने वाले अतनु दूसरी बार इन खेलों में शामिल होंगे, उन्होंने कहा, ‘‘मैं ट्रायल से बहुत खुश हूं और मैं अब ओलंपिक में जाऊंगा। 2016 ओलंपिक से अब तक मैं लंबी प्रक्रिया से गुजरा हूं और मैंने महसूस किया है कि खेल के लिये मानसिक मजबूती सबसे अहम है। मैं टोक्यो में व्यक्तिगत और टीम स्पर्धा में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिये तैयार हूं।’’ वहीं एशियाई तीरंदाजी चैम्पियनशिप 2019 में ओलंपिक कोटा जीत चुकी दीपिका भी ट्रायल में अव्वल रहीं। यह उनका तीसरा ओलंपिक होगा, वह 2012 और 2016 ओलंपिक में खेल चुकी हैं। 
भारतीय खेल प्राधिकरण के अनुसार, ‘‘अंक प्रणाली के आधार पर ओलंपिक टीम के चयन के लिये नवंबर 2020 में हुए दूसरे ट्रायल के स्कोर, इस ट्रायल के स्कोर और तीरंदाज ने ओलंपिक कोटा जीता है या नहीं, इसे देखा गया।’’ वहीं पुरूष रिकर्व टीम ने पहले ही कोटा हासिल कर लिया था जो उसने नीदरलैंड में हुई 2019 तीरंदाजी विश्व चैम्पियनशिप में रजत पदक जीतकर प्राप्त किया था। यह कोटा जीतकर, वे पुरूष व्यक्तिगत रिकर्व स्पर्धा में एकल एथलीट कोटा में भी खेलने के योग्य हो गये हैं। प्रवीण ट्रायल में शीर्ष पर रहे और वह ओवरऑल वर्ग में प्रथम स्थान पर रहे जिससे उन्होंने पहली बार ओलंपिक में देश का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिल रहा है। वहीं अतनु दूसरे और तरूणदीप तीसरे स्थान पर रहे। तरूणदीप दो बार के पूर्व ओलंपियन हैं उन्होंने 2004 और 2012 में देश का प्रतिनिधित्व किया था जिससे वह टोक्यो में तीसरे ओलंपिक में भाग लेंगे।