लंदन । सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल के शानदार शतक और रोहित शर्मा के अर्धशतक की सहायता से भारतीय क्रिकेट टीम ने मेजबान इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे क्रिकेट टेस्ट मैच के पहले दिन अच्छी शुरुआत करते हुए अपनी पहली पारी में तीन विकेट पर  276 रन बना लिए थे। दिन का खेल समाप्त होने के समय राहुल 127 रन जबकि आजिंक्य रहाणे एक रन बनाकर खेल रहे थे। रोहित शर्मा ने आक्रामक बल्लेबाजी करते हुए 83 रन बनाये पर कप्तान विराट कोहली एक बार फिर बड़ी पारी नहीं खेल पाये और 42 रन बनाकर ऑली रोबिंसन का शिकार बने। राहुल ने लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर शतक जड़ दिया। वह ऐसा करने वाले तीसरे भारतीय बल्लेबाज हैं।
 टीम इंडिया ने 150 रन पर अपना दूसरा विकेट खो दिया। तभी क्रीज पर भारतीय कप्तान विराट आए। 
रोहित का विकेट गिरने के बाद क्रीज पर चेतेश्वर पुजारा आए। पुजारा से इस बार अच्छी पारी की उम्मीद थी पर वह एक बार फिर नाकाम रहे।
बारिश के कारण पहले सत्र का खेल ज्यादा नहीं हो पाया और अंपायर ने लंच ब्रेक कर दी। लंच के बाद आए रोहित और राहुल ने भारतीय टीम को लॉर्ड्स के मैदान पर शतकीय साझेदारी दी। दोनों बल्लेबाजों के बीच पहले विकेट के लिए 126 रन की साझेदारी हुई।
सलामी जोड़ी ने बनाया नया रिकार्ड
वहीं इससे पहले मेजबान टीम के कप्तान जो रूट ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। भारतीय टीम की शुरुआत राहुल और रोहित ने की। दोनों ने 46 रन की साझेदारी बनायी। बारिश के कारण खेल को बीच में ही रोकना पड़ा।
रोहित और राहुल की जोड़ी ने इंग्लैंड के गेंदबाजों को कोई अवसर न देते हुए जमकर रन बनाए। दोनों ही बल्लेबाजों ने लॉर्ड्स के मैदान पर शतकीय साझेदारी बनाकर अपने नाम एक रिकॉर्ड दर्ज कर लिया है। 
रोहित और राहुल ने लॉर्ड्स के मैदान पर दूसरी सबसे बड़ी शुरुआती साझेदारी की है। दोनों बल्लेबाजों ने लॉर्ड्स के मैदान पर भारत के लिए 126 रन की साझेदारी करने के साथ ही एक नया रिकॉर्ड बनाया है। यह भारत की लॉर्ड्स के मैदान पर सबसे बड़ी शुरुआत साझेदारी है। इससे पहले भारत की सबसे बड़ी शुरुआत साझेदारी 106 रन की थी जो साल 1952 में हुई थी। उसके बाद सुनील गावस्कर और फारूख इंजीनियर के बीच लॉर्ड्स के मैदान पर 131 रन की साझेदारी हुई। लेकिन रोहित और राहुल ने लॉर्ड्स पर भारत को 126 रन की अच्छी शुरूआत देकर दूसरी सबसे सफल ओपनिंग साझेदारी का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है।