भोपाल के 2 शूटर्स ऐश्वर्य प्रताप और चिंकी यादव ने गोल्ड जीता; वुमन्स 25 मीटर पिस्टल इवेंट में भारत का क्लीन स्वीप

50 मीटर राइफल थ्री पोजिशन में गोल्ड मेडल के साथ ऐश्वर्य प्रताप सिंह (बीच में)। सिल्वर मेडल हंगरी के स्टार राइफलमैन इस्तवान पेनी (बाएं) और ब्रॉन्ज डेनमार्क के स्टीफन ओलसन (दाएं) ने जीता।

दिल्ली में चल रहे ISSF शूटिंग वर्ल्ड कप का छठा दिन मध्य प्रदेश के शूटर्स के नाम रहा। भोपाल के 2 शूटर्स ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर और चिंकी यादव ने अलग-अलग इवेंट में भारत को गोल्ड दिलाया। ऐश्वर्य ने मेन्स 50 मीटर राइफल थ्री पोजिशन में गोल्ड जीता। यह वर्ल्ड कप में उनका पहला गोल्ड मेडल है। दिग्गज शूटर संजीव राजपूत ने इसी इवेंट में छठा स्थान हासिल किया। यह दोनों शूटर पहले ही ओलिंपिक कोटा हासिल कर चुके हैं।

वहीं, चिंकी ने वुमन्स 25 मीटर पिस्टल में स्वर्ण पदक हासिल किया। इस इवेंट में गोल्ड, सिल्वर और ब्रॉन्ज तीनों मेडल भारतीय शूटर्स ने जीते। चिंकी के अलावा महाराष्ट्र की राही सरनोबत ने सिल्वर और हरियाणा की मनु भाकर ने ब्रॉन्ज मेडल जीता। इस इवेंट में चिंकी पहले ही ओलिंपिक कोटा हासिल कर चुकी हैं।

गोल्ड मेडल के साथ चिंकी (बीच में), सिल्वर के साथ राही सरनोबत (बाएं) और ब्रॉन्ज मेडल के साथ मनु भाकर (दाएं)।

20 साल के ऐश्वर्य ने फाइनल में 462.5 का स्कोर बनाया

20 साल के ऐश्वर्य ने फाइनल में 462.5 का स्कोर बनाया। वहीं, हंगरी के स्टार राइफलमैन इस्तवान पेनी 461.6 पॉइंट के साथ दूसरे स्थान पर रहे। डेनमार्क के स्टीफन ओलसन 450.9 पॉइंट के साथ ब्रॉन्ज मेडल हासिल किया। इस इवेंट के फाइनल में इन तीनों के अलावा फिनलैंड के अलेस्कि लेप्पा और जूहो कुर्की और स्विट्जरलैंड के जेन लोचबिहलर जगह बना पाए।

क्वालिफिकेशन राउंड में टॉप पर रहे थे संजीव राजपूत

क्वालिफिकेशन राउंड में संजीव राजपूत 1172 पॉइंट के साथ टॉप पर रहे थे। पर फाइनल में चूक गए। क्वालिफिकेशन राउंड में ऐश्वर्य 1165 पॉइंट बना पाए थे। ऐश्वर्य ने 2019 में हुए एशियन शूटिंग चैम्पियनशिप में 50मी राइफल थ्री पोजिशन इवेंट में ब्रॉन्ज मेडल हासिल किया था। इस जीत के साथ उन्होंने ओलिंपिक कोटा हासिल किया था।

क्या होता है 50मी राइफल थ्री पोजिशन इवेंट?

50मी राइफल थ्री पोजिशन इवेंट में घुटना टेककर, लेटकर और खड़ा होकर पुरुषों को 45-45 राउंड फायरिंग करनी होती है, जबकि महिलाओं को 20-20 राउंड। ऐश्वर्य ने तीन दिन पहले ही वर्ल्ड कप में दीपक कुमार और पंकज कुमार के साथ मिलकर मेन्स टीम एयर राइफल इवेंट में सिल्वर जीता था।

ऐश्वर्य पहले नेशनल चैम्पियनशिप से डिस्क्वालिफाई हुए थे

ऐश्वर्य 7 साल पहले मध्य प्रदेश शूटिंग एकेडमी में हुए सिलेक्शन ट्रायल को क्लीयर करने में फेल हुए थे। 2015 में वे पहले नेशनल चैम्पियनशिप में भी डिस्क्वालिफाई हो गए थे। इसके बाद टेक्नीकल कारणों से उन्हें पूरे साल के लिए सस्पेंड कर दिया गया था। उन्होंने 2016 और 2018 में वापसी की और जूनियर नेशनल चैम्पिशनशिप में 3 गोल्ड जीते।

शूटर ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर।

चिंकी के पिता पेशे से इलेक्ट्रीशियन हैं

भापोल की चिंकी के पिता मेहताब सिंह यादव पेशे से इलेक्ट्रीशियन हैं। वे पिछले 23 सालों से खेल विभाग के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। 2012 में ‌शूटिंग में करियर की शुरुआत करने वाली चिंकी ‌का घर स्टेडियम के अंदर ही है। इस वजह से वे बचपन से ही कई खेलों को देख रही हैं।

उन्होंने समर कैंप से शूटिंग में कदम रखा और इसके बाद एकेडमी जॉइन किया। जल्द ही यह युवा निशानेबाज सभी की नजरों में आ गई। चिंकी शूटिंग एकेडमी के लिए टैलेंट हंट के लिए चुने जाने वाले चुनिंदा निशानेबाजों में से एक थीं। इसके बाद उन्होंने नेशनल चैंपियनशिप में हिस्सा लिया और मेडल जीता। उनका सपना स्नूकर या जिम्नास्टिक में जाने का था। वह इन खेलों के लिए मेहनत भी कर रही थीं, लेकिन बाद में हालात बदले और वह शूटिंग में आ गईं।

भोपाल की शूटर चिंकी यादव का वर्ल्ड कप में यह पहला मेडल है। उन्होंने पहला मेडल ही गोल्ड के रूप में जीता।

भारत 9 गोल्ड समेत 18 मेडल के साथ मेडल्स टैली में टॉप पर

भारत ने अब तक टूर्नामेंट में 9 गोल्ड, 4 सिल्वर और 5 ब्रॉन्ज समेत कुल 18 मेडल जीते हैं। टीम इंडिया टूर्नामेंट में फिलहाल मेडल्स टैली में टॉप पर है। वहीं, USA दूसरे नंबर और कजाकिस्तान तीसरे नंबर पर है।

ISSF शूटिंग वर्ल्ड कप के हाइलाइट्स

दूसरे दिन भारत ने यह मेडल जीते -

10 मीटर एयर पिस्टल में यशस्विनी देसवाल ने मनु भाकर को हराकर भारत के लिए पहला गोल्ड जीता था। मनु को सिल्वर से संतोष करना पड़ा।
18 साल के दिव्यांश सिंह ने 10 मीटर एयर राइफल मेन्स में ब्रॉन्ज मेडल जीता था।
10 मीटर एयर पिस्टल मेन्स में सौरव चौधरी ने सिल्वर मेडल और अभिषेक वर्मा ने ब्रॉन्ज मेडल जीता।
गोल्ड जीतने के बाद यशस्विनी ने कहा-


तीसरे दिन भारत ने यह मेडल जीते -

10 मीटर एयर पिस्टल मेन्स टीम ने गोल्ड जीता। टीम में सौरभ चौधरी, अभिषेक वर्मा और शाहजार रिज्वी शामिल थे।
10 मीटर एयर पिस्टल वुमन्स टीम ने गोल्ड जीता। टीम में यशस्विनी देसवाल, मनु भाकर और श्रीनिवेथा परमानंथ शामिल थे।
10 मीटर एयर राइफल मेन्स टीम ने सिल्वर जीता। टीम में एश्वर्य प्रताप सिंह, दीपक कुमार और पंकज कुमार शामिल थे।
गनीमत शेख ने स्कीट वुमन्स सिंगल्स इवेंट में ब्रॉन्ज जीता। वे ऐसा करने वाली पहली भारतीय महिला शूटर हैं।

चौथे दिन भारत ने यह मेडल जीते -

दिव्यांश सिंह और इलावेनिल वलारिवान की जोड़ी ने 10 मीटर एयर राइफल मिक्स्ड इवेंट में गोल्ड जीता।
सौरभ चौधरी और मनु भाकर की जोड़ी ने 10 मीटर एयर पिस्टल मिक्स्ड इवेंट में गोल्ड मेडल जीता।
10 मीटर एयर पिस्टल मिक्स्ड इवेंट में अभिषेक वर्मा और यशस्विनी देसवाल की जोड़ी ने ब्रॉन्ज मेडल जीता।
गुरजात खंगुरा, मैराज अहमद खान और अंगद वीर सिंह बाजवा की तिकड़ी ने स्कीट टीम इवेंट में गोल्ड जीता।
भारत की परिनाज धालीवाल, कार्तिकी सिंह शक्तावत और गनीमत शेखों ने वुमन्स स्कीट टीम इवेंट में सिल्वर हासिल किया।

5वें दिन भारत ने यह मेडल जीते -

गनीमत शेखों और अंगद वीर सिंह की जोड़ी ने भारत को 7वां गोल्ड मेडल दिलाया।
दोनों ने स्कीट के मिक्स्ड इवेंट में यह मेडल जीता।
फाइनल में अंगद और गनीमत ने कजाकिस्तान की ओल्गा पनारिना और एलेक्जेंडर येचशेंको को 33-29 से हराया।
अंगद और गनीमत ने क्वालिफिकेशन राउंड में 141 का स्कोर बनाकर टॉप पर रहे थे।